तेरी बेवफाई

कैसे करूँ भरोसा तेरा,

तुमने तो कहा था कभी साथ ना छोड़ोगे,

कभी रिश्ते ना तोडोगे कभी तनहा ना छोड़ोगे,

हर सुबह-ओ-शाम गुजारोगे अब क्या हुआ याद नही आती हमारी,

या दिन नही ढलता शाम नही होती

……anshika rai