!!

Welcome to Kavya Kosh

This is a retired Kavyakosh forum used as an archive. To access new Kavyakosh.Click here

Author Topic: चुटकी-आज की राजनीति के ऊपर  (Read 8279 times)

Offline pcmurarka

  • Sr. Member
  • ****
  • Topic Author
  • Posts: 398
  • Karma: +1/-0
  • Gender: Male
  • प्रेमचंद मुरारका
राजनीति के पेंतरे बड़े अजीब हैं
आम आदमी के समझ के बाहर हैं
राजनीति में रूठना एक कला हैं
राजनीतिज्ञ जानते हैं यह एक हथियार हैं
जिससे मन की भड़ास निकालने सकते हैं
पर वह भूल जाते हैं उनकी उम्र हो गई
अब तो अवकाश लेने का समय आ गया हैं
राजनीति ऎसी होती हैं उसका नशा उतरता नहीं
गद्दी का मोह उन्हें अपने पाश में जकड़ लेता हैं
वह बाँट जोहते हैं कौन आये उन्हें मनाने
दुसरा उम्रदराज सोचता हैं मनाना जरुरी हैं
हो सकता हैं कल उसमे यह बीतने वाली हैं
वह आगे बढ़कर उन्हें मना लेता हैं
दोनों की अंदरुनी सोच एक हैं
रूठने वाला मान जाता हैं पार्टी के स्वार्थ में
राजनीति में कोई दुश्मन नहीं होते।

----प्रेमचंद मुरारका
« Last Edit: April 21, 2014, 06:30:03 PM by pcmurarka »

Offline AdvoRavinderRaviSagar

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 62
  • Karma: +0/-0
  • Gender: Male
Re: चुटकी-आज की राजनीति के ऊपर
« Reply #1 on: September 14, 2013, 06:21:50 PM »
बहुत खूब जी

Offline sherdilxbkn@gmail.com

  • Newbie
  • *
  • Posts: 34
  • Karma: +0/-0
NICE