!!

Welcome to Kavya Kosh

This is a retired Kavyakosh forum used as an archive. To access new Kavyakosh.Click here

Author Topic: भारत का इतिहास क्या ऐसा ही रहेगा  (Read 2842 times)

Offline pcmurarka

  • Sr. Member
  • ****
  • Topic Author
  • Posts: 398
  • Karma: +1/-0
  • Gender: Male
  • प्रेमचंद मुरारका
ईतिहास के पन्नो से कंहा गुम हो गये
उन शहीदो के नाम और जीवन बृतान्त
आज की पीढ़ी कैसे जान पायेगी
किन शहीदो के कारन हमे मीली है
यह स्वाधीनता या यह गणतन्त्र
जब सोचता हु तो आश्चर्य लगता है
क्यों शहीदो ने प्राण की आहुती दी
क्यों देशमातृका के लिये अंग्रेजो की यातना भोगी
क्यों अंग्रेजोके पक्षपातदुस्ट क़ानून के कारन
हँसते हँसते जेल यात्रा की
क्या आज की पीढ़ी जानती है
वह कोन से महापुरुष थे
जिन्होंने अपनी सारी जिंदगी
देश के लिए कुर्बान कर दिये
आज के इतिहास के चन्द पन्नो मे लिखा गया
कुछ नामो की, क्या यह वाजिब है ?
निचे कुछ नामो का उल्लेख है
जो नई पीढ़ी के लिए अनजान हो गए
वैसे तो हज़ारो लाखो लोग थे
जिन्होंने भारत माँ की
स्वाधीनताके लिए कुर्बानी दी थी
शहीद मंगल पांडे
शहीद खुदीराम बोस
महात्मा गांधी-अहिंसा के पुजारी
नेताजी सुभाष चन्द्र बोस
शहीद भगत सिंह
शहीद राम प्रसाद बिस्मिल
शहीद सुखदेव
शहीद चंद्रशेखर आज़ाद
शहीद जतिन मुखेर्जी
शहीद लाला लाजपतराय
शहीद चित्तरंजन दास
शहीद दादाभाई नारोजी
शहीद जयप्रकाश नारायण
शहीद खान अब्दुल गफ्फार खान
शहीद मदनलाल धींराज
शहीद राजेन्द्र प्रसाद
शहीद रास बिहारी बोस
और बहुत से नाम है..........
महामना पंडित मदन मोहन मालवीय
स्वाधीन भारत के रुपकार-जवाहरलाल नेहरू
सारे भारत को एक करनेवाले-सरदार बल्लभ भाई पटेल
जन गन मन- जातीय संगीत के रचनाकार रबीन्द्रनाथ ठाकुर 
बंगाल के रुपकार-डॉक्टर बिधान चन्द्र रॉय
जय जवान जय किसान वाले लाल बहादुर शास्त्री
स्वाधीन भारत की इज्जत-मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद
आज प्रश्न है इतिहासकारो से कैसे मालुम हो
आज की पीढ़ी को भारत की असली कहानी 
क्या जरुरी नही वह जाने इन सपूतो की क़ुरबानी

-------प्रेमचंद मुरारका

 


 

Offline rochika.sharma.3

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 50
  • Karma: +0/-0
  • Gender: Female
  इतनी आक्ची देश भक्ति कविता कोई सच्चा देश प्रेमी ही लिख सकता है

बहुत ही अच्छी कविता

Offline pcmurarka

  • Sr. Member
  • ****
  • Topic Author
  • Posts: 398
  • Karma: +1/-0
  • Gender: Male
  • प्रेमचंद मुरारका
THANKS RUCHIKAJI