!!

Welcome to Kavya Kosh

This is a retired Kavyakosh forum used as an archive. To access new Kavyakosh.Click here

Author Topic: पेट खराब लज़ीज़ ख़ाना  (Read 2921 times)

Offline somsharma

  • Newbie
  • *
  • Topic Author
  • Posts: 13
  • Karma: +0/-0
  • Gender: Male
  • retired soldier now writing for social change
पेट खराब लज़ीज़ ख़ाना
« on: September 12, 2014, 11:22:18 PM »

कितना अज़ीज़ कितना लज़ीज़
ख़ाना भी लाजवाब हो !
आता नही मज़ा कभी भाईया
गर दिलखुश का पेट खराब हो !!1!!

कितना दिलकश कितना हसीन
बैठा साथ में हुसने शबाब हो !
इशके मोहब्बत हो नही सकती
जब दिलवर का भाईया पेट खराब हो !!2!!

बैठे हो वॅज़्मए साकी में और
 हाथों में लबालब जामे शराब हो !
कैसे उठाएँ लुतफे मय
गर रिंदों का पेट खराब हो !!3!!

कितनी ही बाबुलंद हस्ती हो
 या कितने ही रुबीले जनाब हो!!
काम आता नहीं कुछ भी उस वक्त
जब साहिब का पेट खराब हो !!4!!

ख्वाबों के इश्क में रात गुजर गयी 
देख हसीन फलक में जब महताब हो
हो गया सब गरके इश्क यूँ सुनके
आएँगें कैसे आशिक जब उनका पेट खराब हो !!5!!

आए थे मर्दे जोश में घोड़ी पे बैठकर !!
बैठे थे सज संवर कर जामे शादी में ऐंठ कर !!

उठा ना पाए मोजे शादी पहली रात
छूटा नहीं  था इशके गुसल बार बार
दुलहे का रात भर जब पेट खराब हो!!6!!

कर्मों  के माया जाल से बचता नहीं है कोई
अच्छे करम करो तो अछा हिसाब हो !!
दुनियाँ की नेमते मिलती हें बस उन्हें
जिनका नसीब अच्छा हो
ना मोके पर पेट खराब हो !!6!!

Deep Sharma

  • Guest
Re: पेट खराब लज़ीज़ ख़ाना
« Reply #1 on: February 26, 2015, 10:04:39 PM »

कितना अज़ीज़ कितना लज़ीज़
ख़ाना भी लाजवाब हो !
आता नही मज़ा कभी भाईया
गर दिलखुश का पेट खराब हो !!1!!

कितना दिलकश कितना हसीन
बैठा साथ में हुसने शबाब हो !
इशके मोहब्बत हो नही सकती
जब दिलवर का भाईया पेट खराब हो !!2!!

बैठे हो वॅज़्मए साकी में और
 हाथों में लबालब जामे शराब हो !
कैसे उठाएँ लुतफे मय
गर रिंदों का पेट खराब हो !!3!!

कितनी ही बाबुलंद हस्ती हो
 या कितने ही रुबीले जनाब हो!!
काम आता नहीं कुछ भी उस वक्त
जब साहिब का पेट खराब हो !!4!!

ख्वाबों के इश्क में रात गुजर गयी 
देख हसीन फलक में जब महताब हो
हो गया सब गरके इश्क यूँ सुनके
आएँगें कैसे आशिक जब उनका पेट खराब हो !!5!!

आए थे मर्दे जोश में घोड़ी पे बैठकर !!
बैठे थे सज संवर कर जामे शादी में ऐंठ कर !!

उठा ना पाए मोजे शादी पहली रात
छूटा नहीं  था इशके गुसल बार बार
दुलहे का रात भर जब पेट खराब हो!!6!!

कर्मों  के माया जाल से बचता नहीं है कोई
अच्छे करम करो तो अछा हिसाब हो !!
दुनियाँ की नेमते मिलती हें बस उन्हें
जिनका नसीब अच्छा हो
ना मोके पर पेट खराब हो !!6!!