!!

Welcome to Kavya Kosh

This is a retired Kavyakosh forum used as an archive. To access new Kavyakosh.Click here

Author Topic: " शुभ दीपावली "  (Read 180 times)

Offline anilpachori@gmail.com

  • Newbie
  • *
  • Topic Author
  • Posts: 4
  • Karma: +0/-0
  • Gender: Male
  • अनिल पचौरी
" शुभ दीपावली "
« on: October 31, 2014, 11:49:00 AM »
" शुभ दीपावली "

माँ लक्ष्मी के स्वागत की तैयारी कर लीजिये !
पुष्प मिठाई मेवों से थाली अपनी भर लीजिये !!
दिवाली सतरंगी पर्व है विश्वास का !
पर्व है ये मर्यादा पुरुषोत्तम के पुरुसार्थ का !!
देहरी पर ये दीप सदा यूँ ही जलता रहे !
अन्धकार से इसका युद्ध यूँ ही चलता रहे !!
दूर द्वेष और कटुता के अन्धकार हो !
मीठे से सुर हो और मीठी सी ताल हो !!
प्रकाश के जैसा उज्जवल सबका तन हो !
सर्वजन स्वजन और निर्मल उनका मन हो !!
केवल अपना दीप जला हम स्वार्थी ना बन जाएँ !
चले किसी जरूरत मंद को भी प्रकाश दान दे आएं !!
दिवाली तो तभी प्रकाशमान और सार्थक हो पाएगी !
भावना सर्व जन सुखाय की जब चरितार्थ हो जायेगी !!
सभी सर्वजन मिल एक दूसरे के अन्धकार मिटायें !
चलो दुषरे के द्वार पर भी दिव्य ज्योति जलाएं !!
आओ मिल रौशनी का कुछ ऐसा आगाज कर जाएँ !
आप वहां हो और हम भी खुद को संग आपके पाएं !!
इस लेखक की प्रार्थना सुभकामनाएँ स्वीकार कीजिये !
अबोध लेखक को आप आशीषों की मधुर छाँव दीजिये !!

 ~ " अनिल पचौरी "
https://www.facebook.com/kavipachori?ref=hl
~ अनिल पचौरी

Offline anilpachori@gmail.com

  • Newbie
  • *
  • Topic Author
  • Posts: 4
  • Karma: +0/-0
  • Gender: Male
  • अनिल पचौरी
Re: " शुभ दीपावली "
« Reply #1 on: November 04, 2014, 03:01:39 AM »
कृपया आप हमारी इन कविताओं में संशोधन बतलाइये .
इन कविताओं को यहाँ लाने के उद्देश्य को सफल बनाइये !!
सच मानिए उद्देश्य कोई प्रतोयोगिता जीतना नहीं है .
बल्कि उद्देश्य तो कुछ अच्छा लिखना सीखना ही है ..
यदि आप हमारे लिखने में सुधार बतलायेंगे
उन सुधारों को अपना हम धन्य हो जाएंगे !!

~ अनिल पचोरी
~ अनिल पचौरी