कुँवर नारायण की एक कविता

प्रिय दोस्त, मैं सबको प्रणाम करता हूँ । मैं विदेशी हूँ और मुझे हिंदी कविता में रुचि है । यह भी कह सकता हूँ कि मैं हिंदी भाषा का एक प्रेमी हूँ । अभी मैं एक कवि का अनुवाद कर रहा हूँ कुँवर नारायण । कभी कभी इनका अनुवाद करना अत्यंत मुश्किल है तो मैं यहाँ आया हूँ क्योंकि मैं आपकी मदद निवेदन करना चाहूँगा । आप कर सकते हैं क्या ? जैसे इस कविता में जो रेखांकित किया गया आप कैसे समझते हैं ? विदेशी होने की बावजूद मैं सब कुछ नहीं समझ सकता हूँ.. हिंदी भाषा अधिक रहस्यात्मक Continue reading कुँवर नारायण की एक कविता

Live Conversation with Kavyakosh Admin

Namaskar, You are specially invited for a Kavyakosh Live event on Facebook on July 23 2016 at 8.30 PM IST Kavyakosh Admin will go live on Facebook and interact with you. The Key features of event: 1. Admin will speak about Kavyakosh journey of 5 years. 2. Discussion about future of Kavyakosh. 3. Audience can ask question about the poems or the issues they face on Kavyakosh directly to the admin. RSVP here: https://www.facebook.com/events/1048964645140549/ Waiting for our first interaction with you guys 🙂

जन्म लेना ही है साहस

8 मार्च, अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के निकट आते ही विभिन्न समारोहों का आयोजन व उनमे महिलाओं का महिमामंडन, वर्षों से चली आ रही एक सुनियोजित सी परंपरा है| उन्नति पथ पर अपनी राह संवारते आगे बढ़ती महिला इन आयोजनों को, मुड़कर देखती जरूर है किन्तु मुस्कुरा कर आगे बढ़ जाती है| उसकी यह मुस्कराहट इस महिमामंडन के लिए होती है| हर क्षेत्र के विभिन्न श्रेष्ठ पदों को संभाल-संवार रही महिलायें, आज भी गर्व से तो कभी गंभीरता से, अपने स्त्री जन्म के विषय में सोचती जरूर हैं| अपने एक ही जीवन में, अनेक सीमाओं के अंतर्गत, कितनी ही भूमिकाओं का Continue reading जन्म लेना ही है साहस